UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-लोकसभा चुनावों से पहले उत्तराखंड पुलिस की बड़ी तैयारी, अपराधियों पर ऐसे कसी जाएगी नकेल

शराब तस्करी रोकने को लेकर उत्तराखंड पुलिस ने अपनाया यह तरीका, अब होगी सख्ती
वहीं चुनाव के दौरान सुरक्षाबलों के ठहरने के स्थानों को चिह्नित कर लिया जाए और उक्त स्थानों का भौतिक निरीक्षण कर सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को पूर्ण कर लिया जाए। थाना क्षेत्रों में संवेदनशील तथा अति संवेदनशील स्थानों पर सभी संदिग्ध गतिविधियों पर सतर्कता से नजर रखें। ऐसे मतदान केंद्रों पर सुरक्षा की दृष्टि से लगने वाले सुरक्षा बलों का समय से आकलन कर लिया जाए।

 

 

 

आगामी लोकसभा चुनाव में शराब तस्करी की आशंका को लेकर एसएसपी ने सीमा पर चेकिंग बढ़ाने के निर्देश जारी किए हैं।  रिजर्व पुलिस लाइन में मासिक अपराध गोष्ठी में उन्होंने कहा कि चुनाव के चलते अन्य राज्यों से शराब की तस्करी बढ़ जाती है। ऐसे में बार्डर पर चेकिंग बढ़ाएं। इसके साथ ही उन्होंने चुनाव को लेकर पुलिस की तैयारियों का जायजा भी लियाएसएसपी ने कहा कि सभी थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित मतदान केंद्रों का भौतिक रूप से निरीक्षण कर लें तथा मतदान के लिए सभी बुनियादी व्यवस्थाओं को समय से पूर्ण करना सुनिश्चित करें।

 

 

 

 

वहीं चुनाव के दौरान सुरक्षाबलों के ठहरने के स्थानों को चिह्नित कर लिया जाए और उक्त स्थानों का भौतिक निरीक्षण कर सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को पूर्ण कर लिया जाए। थाना क्षेत्रों में संवेदनशील तथा अति संवेदनशील स्थानों पर सभी संदिग्ध गतिविधियों पर सतर्कता से नजर रखें। ऐसे मतदान केंद्रों पर सुरक्षा की दृष्टि से लगने वाले सुरक्षा बलों का समय से आकलन कर लिया जाए।

 

 

 

एसएसपी ने यह भी दिए दिशा निर्देशचुनाव के दौरान इंटरनेट मीडिया व अन्य माध्यमों से चुनावों को प्रभावित करने वाले मुद्दों तथा संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखते हुए भ्रामक खबरें फैलाने का प्रयास करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करें।

 

 

 

ऐसे आरोपित जो नियमित रूप से आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त रहते हैं तथा चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित कर सकते हैं, उन्हें चिह्नित करते हुए उनके विरुद्ध गैंगस्टर तथा गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई करें। लंबित विवेचनाओं तथा प्रार्थनापत्रों का समय से निस्तारण कर लिया जाए। सभी थाना प्रभारी अपने-अपने थाना क्षेत्रों में नियमित रूप से बाहरी व्यक्तियों, किरायेदारों और संदिग्ध व्यक्तियों की सत्यापन के कार्रवाई सुनिश्चित करें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top