UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-CBI ने CGST अधीक्षक को दस हजार की रिश्वत लेते पकड़ा, जानें पूरा मामला

CBI ने CGST अधीक्षक को दस हजार की रिश्वत लेते पकड़ा, जानें पूरा मामला ऊधम सिंह नगर में सीबीआई ने सीजीएसटी अधीक्षक को दस हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। ऊधम सिंह नगर में सीबीआई ने सीजीएसटी अधीक्षक को दस हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। अधीक्षक योगेश कुमार ने कारोबारी की पत्नी की फर्म का जीएसटी नंबर एक्टिवेट करने के नाम पर रिश्वत मांगी थी। आरोपी योगेश कुमार को सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया है।

 

मुकेश कुमार निवासी रुद्रपुर ऊधमसिंह नगर की पत्नी सिग्नेचर इंटरनेशनल कारपोरेशन नाम फर्म का संचालन कर रही हैं वह प्लास्टिक सामान का व्यापार करते हैं। कुछ कारणों के चलते इनकी फर्म की जीएसटी नंबर को निलंबित कर दिया गया जिसके कारण उनका व्यवसाय रुक गया है। इस समस्या को लेकर वह 21 फरवरी को अधीक्षक सीजीएसटी के अधीक्षक योगेश अग्रवाल से मिले और समस्या बताई फिर.

 

 

 

..सीबीआई ने सीजीएसटी के अधीक्षक को 10 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। शिकायतकर्ता मुकेश कुमार निवासी रुद्रपुर ऊधमसिंह नगर ने सीबीआई के एसपी से शिकायत की थी कि उनकी पत्नी सिग्नेचर इंटरनेशनल कारपोरेशन नाम फर्म का संचालन कर रही हैं, वह प्लास्टिक सामान का व्यापार करते हैं।कुछ कारणों के चलते इनकी फर्म की जीएसटी नंबर को निलंबित कर दिया गया, जिसके कारण उनका व्यवसाय रुक गया है। इस समस्या को लेकर वह 21 फरवरी को अधीक्षक केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी) के अधीक्षक योगेश अग्रवाल से मिले और समस्या बताई।शिकायतकर्ता ने बताया ने अधीक्षक ने समस्या का समाधान के लिए 15 हजार रुपये की मांग की और कुछ दस्तावेज भी मांगे। धमकी दी कि यदि रिश्वत नहीं दी तो वह जीएसटी नंबर हमेशा के लिए बंद कर देगा जिससे उनका व्यवसाय चौपट हो जाएगा।

 

 

आरोपित को रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार
शिकायत पर एसपी सीबीआई देहरादून सेक्टर एसके राठी ने एक टीम गठित कर तत्काल कार्रवाई ने निर्देश दिए। जांच के बाद सोमवार को सीबीआई के एक टीम रुद्रपुर पहुंची और आरोपित को 10 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया। अधीक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top