UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-सीएम हो तो ऐसा, पहले खेला फुटबाल फिर आम आदमी की तरह खाने लगे ठेली पर गोल गप्पे

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खटीमा चौराहे पर अपना काफिला रुकवा कर स्थानीय जनता से संवाद किया। इस दौरान उन्होंने उपस्थित जनता के साथ चाट के ठेले पर गोल गप्पों का आनंद भी लिया।

 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के चंपावत में स्थानीय कार्यक्रमों में सहभागिता के उपरांत खटीमा – लोहिया हेड पहुंचने पर मुख्यमंत्री श्री धामी ने *लोहिया हेड मिनी स्टेडियम* में फुटबॉल खेल रहे स्थानीय युवकों के मध्य अचानक पहुंचकर उनके साथ अनुभव साझा किये।
मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि *खेलेगा युवा – जीतेगा भारत* की परिकल्पना को साकार करने के लिए हमारी सरकार ने युवा खिलाड़ियों के लिए खेल में अपना सुनहरा भविष्य बनाने के लिए अनेकों योजनाएं को प्रारंभ किया है।
हमारे युवा खेल के माध्यम से एक विकसित भारत एवं श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार करें इसके लिए अत्यंत आवश्यक है कि उनके पोषाहार से लेकर एक सफल खिलाड़ी बनने तक हर वह सुविधा मुहैया कराई जाए जो उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें।

 

 

इस अवसर पर युवा खिलाड़ियों के साथ मुख्यमंत्री श्री धामी ने अपने बचपन की स्मृतियां एवं उनके पिता स्वर्गीय श्री शेर सिंह धामी द्वारा सिखाए गए कड़े अनुशासन एवं लक्ष्य के प्रति एकाग्रता कैसे प्राप्त की जाती है, अनुभवों को साझा किया।
विदित हो कि लोहिया हेड मिनी स्टेडियम में मुख्यमंत्री श्री धामी के स्वर्गीय पिता की स्मृति में प्रत्येक वर्ष फुटबॉल टूर्नामेंट भी आयोजित किया जाता है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री को अपने मध्य प्रकार फुटबॉल खेल रहे युवा खिलाड़ियों में एक उत्साह का भाव देखने को मिला।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top