उत्तराखंड

Big breaking :-श्रीनगर समेत एक दर्जन गांवों में नाइट कर्फ्यू…बाजारों में परसा सन्नाटा

गुलदार की दहशत: श्रीनगर समेत एक दर्जन गांवों में नाइट कर्फ्यू…बाजारों में परसा सन्नाटा, घरों में दुबके लोगश्रीनगर में तीन दिन पहले गुलदार द्वारा चार वर्षीय मासूम को मारने की घटना के बाद वन विभाग की ओर से तीन पिंजरे लगाए गए हैं, लेकिन कैद नहीं हो पाया है। ऐसे में यहां गुलदार की दहशत बनी हुई है।

 

 

स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने सात से नौ फरवरी तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। वहीं श्रीनगर व अन्य गांवों में समस्त विद्यालयों में आठ फरवरी को भी अवकाश घोषित किया गया है। डीएम डाॅ. आशीष चौहान की ओर से आदेश जारी किया गया है।गुलदार के डर के कारण लगाया गए नाइट कर्फ्यू के कारण दुकानदार शाम छह बजते ही दुकानें बंद कर घर जा रहे हैं। एसडीएम नूपुर वर्मा ने कहा कि विशेषकर बच्चों व बुजुर्गों की सुरक्षा को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगाया गया है।

 

 

 

लोग बेवजह घूमने से बचे।कोतवाली निरीक्षक सतवीर बिष्ट ने कहा कि लोगों को नाइट कर्फ्यू लगाए जाने के कारणों के बारे में बताया जा रहा है। साथ ही नगर निगम व प्रशासन की ओर से भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि साढ़े छह बजे तक बाजार में 60 प्रतिशत से अधिक दुकानदारों ने दुकानें बंद कर दी थी।चार फरवरी की रात को नगर के ग्लास हाउस रोड के समीप गुलदार ने आंगन में खेल रहे बच्चे को मार दिया था। घटना के बाद भी यहां गुलदार कई जगहों पर देखा गया है।

 

 

श्रीनगर से करीब आठ किमी की दूरी पर स्थित फरासू के मंदोली गांव के पास खेतों में चार गुलदार एक साथ दिखाई दिए हैं, जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।गुलदार की सक्रियता को देखते हुए जिला प्रशासन ने श्रीनगर नगर क्षेत्र सहित ग्राम श्रीकोट, ढिक्वाल गांव, सरणा, बुघानी, जलेथा, भटोली, ग्वाड़, रैतपुर, कोठगी, खिर्सू में सात से नौ फरवरी तक शाम 6 से सुबह 6 बजे तक का नाइट कर्फ्यू लगाया है। इसके अलावा नगर निगम की ओर से बुधवार को नगर क्षेत्र में कई मोहल्लों में झाड़ियां काटी गई है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top