UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-एसटीएफ ने आखिर पकड़ लिया तांत्रिक, महिला से ठग लिए थे 40 लाख रुपए

हल्द्वानी। उत्तराखंड एसटीएफ ने एक ठग तांत्रिक को गिरफ्तार किया है। यानि कि तांत्रिक एसएसपी एसटीएफ के अपनी टीम को दिये गुरू मंत्र से खुद को न बचा सका। तांत्रिक सुलेमान बाबा को दिल्ली में रिहायशी अपार्टमेन्ट से एसटीएफ की टीम द्वारा किया गया गिरप्तार। हरिद्वार की महिला को उसकी घरेलू परेशानी को तंत्र मंत्र से दूर करने का झांसा देकर 40 लाख

 

 

रूपये ठग लिए थे। वह विगत 02 वर्षों से फरार था। पकड़े गये तांत्रिक के कई फर्जी नाम हैं। वह तंत्र मंत्र के नाम पर कई लोगों से लाखों की ठगी कर चुका है। उसने दिल्ली में रिहायशी इलाके में करोड़ों का फलैट खरीदा था।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा जानकारी देते हुये बताया कि वर्ष 2022 में थाना कोतवाली गंगनहर रुडकी जिला हरिद्वार में एक महिला से तांत्रिक सुलेमान बाबा द्वारा उसके परिवार में किसी परिजन की असमय मृत्यु का होने का भय दिखाकर महिला से 40 लाख रूपये की ठगी कर ली गयी थी। जिस पर थाना गंगनहर में सुलेमान बाबा के नाम से धोखाधड़ी का अभियोग दर्ज किया गया था परन्तु तांत्रित सुलेमान बाबा तभी से लगातार फरार चल रहा था।

 

 

जिसकी गिरप्तारी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार द्वारा 15 हजार रूपये ईनाम की घोषणा की गयी थी। आज एसटीएफ को तांत्रित सुलेमान बाबा के बारे में मैनुवली सूचना मिली कि सुलेमान बाबा आजाद अपार्टमेन्ट, मधुविहार दिल्ली में फ्लैट लेकर रह रहा है जिस पर एसटीएफ की टीम के द्वारा दबिश देकर सुलेमान बाबा को आजाद अपार्टमेन्ट, मधुविहार दिल्ली से गिरफ्तार कर थाना गंगनहर हरिद्वार में दाखिल किया गया है।

 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा मामले की जानकारी देते हुये आगे बताया गया कि वर्ष 2022 में थाना गंगनहर पर एक महिला द्वारा ने सूचना दी गयी थी कि उसके पति की मृत्यु कोरोना बिमारी के कारण माह मई, 2022 में तथा देवर की मृत्यु भी जुलाई 2021 में हार्ट अटैक से हो गयी थी, जिस वजह से वह महिला काफी परेशान हो गयी थी। उसने माह अक्टूबर 2021 में टी०वी० देखते हुए एक इश्तहार से सुलेमान बाबा जी उर्फ असरद खान का मोबाईल नम्बर देखा और उससे वादिनी द्वारा बात करी तो तांत्रिक द्वारा वादिनी को बताया गया कि उसके परिवार पर मौत का खतरा मडरा रहा है अभी और मौते होनी है जिससे महिला काफी डर गयी और उसने इलाज के बहाने तांत्रिक सुलेमान बाबा को करीब 40 लाख रुपये दे दिये। जिस पर थाना गंगनहर में धोखाधड़ी का अभियोग पंजीकृत हुआ था, जिसमें तात्रिक सुलेमान बाबा तभी से फरार चल रहा था।

पकड़े गये ईनामी अपराधी सुलेमान बाबा उर्फ अरशद उर्फ इंतजार उर्फ भूरा ने एसटीएफ टीम को पूछताछ में बताया है कि वह इस काम में विगत 15 सालों से लिप्त है उसके द्वारा पहले स्थानीय केवल नेटवर्क के जरिये “घरेलू परेशानियों, पारिवारिक कलह को झाड़-फूंक-तंत्र मंत्र से खत्म करने व वशीकरण आदि करने के लिए” अपने तत्रं मत्र का विज्ञापन दिया जाता है और फिर उससे सम्पर्क करने वालों से भारी मात्रा में रूपये ऐंठ लिये जाते हैं। उसके विरूद्ध ऐसे ही 05 मामले पूर्व में दर्ज हुये है, जिसमें 04 मामले थाना मधुविहार दिल्ली और 01 मामला थाना लाजपतनगर दिल्ली में दर्ज हुआ है। पकड़ा गया तांत्रिक दिल्ली मधुविहार क्षेत्र में एक रिहायशी अपार्टमेन्ट में फ्लैट खरीदकर रह रहा था। तांत्रिक ने अपने कई नाम रखे हैं जिससे वो आसानी पकड़ में नहीं आता था।

गिरप्तार अभियुक्त अरशद उर्फ सुलेमान उर्फ इंतजार उर्फ भूरा पुत्र अलाउद्दीन निवासी मलिक नगर, मुरादनगर, जनपद गाजियाबाद, हाल निवासी फ्लैट नम्बर एल-150, आजादनगर एपार्टमेन्ट, थाना मधूविहार पूर्वी दिल्ली है।

एसटीएफ की टीम में उपनिरीक्षक विपिन बहुगुणा, हेड कांस्टेबल देवेन्द्र मंमगाई, कांस्टेबल रवि पन्त नितिन कुमार, के अलावा तकनीकि सहयोग देने वालों में हेड कांस्टेबल प्रमोद, थाना गंगनहर पुलिस उपनिरीक्षक आनन्द मेहरा शामिल थे।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top