UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-टैक्सी न मिलने पर हेलीकॉप्टर से वोट डालने आईं, देखते रह गए सब लोग

टैक्सी न मिलने पर हेलीकॉप्टर से वोट डालने आईं, देखते रह गए सब लोग टैक्सियों के चुनावी ड्यूटी में जुटने के कारण जब चंद्रा को घर आने का साधन नहीं मिला तो बेटे से कहकर हेलीकॉप्टर में सीट बुक करवाई। इसके बाद हेलीपेड से सीधा अपने बूथ पहुंच गई।

 

 

 

वहीं कुछ देर बाद हेलीपैड से उतरी चंद्रा ने कहा कि वोट हर व्यक्ति को देना चाहिए। वहीं भीमताल के मतदाताओं में इस बार जोश देखने को नहीं मिला।डहरिया के गणपति विहार फेज टू निवासी चंद्रा देवी लोकतंत्र के महापर्व और मतदान के अधिकार की अहमियत को समझती हैं।टैक्सियों के चुनावी ड्यूटी में जुटने के कारण जब चंद्रा को घर आने का साधन नहीं मिला तो बेटे से कहकर हेलीकॉप्टर में सीट बुक करवाई। इसके बाद हल्द्वानी पहुंच मतदान किया।

 

 

 

 

शुक्रवार सुबह 11.30 बजे करीब गौलापार स्थित हेलीपैड के बाहर डहरिया के गणपति विहार फेज टू निवासी डा. सुनील देव अपनी मां चंद्रा देवी के इंतजार में खड़े थे।

पूछने पर बताया कि पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मां पिथौरागढ़ गई थीं। हर चुनाव में मतदान करने वाली चंद्रा को पिथौरागढ़ से हल्द्वानी के लिए जब समय से टैक्सी नहीं मिली तो उन्होंने बेटे से कह कर हेलीकॉप्टर में सीट बुक करवाई। इसके बाद हेलीपेड से सीधा अपने बूथ पहुंच गई। वहीं, कुछ देर बाद हेलीपैड से उतरी चंद्रा ने कहा कि वोट हर व्यक्ति को देना चाहिए।

 

 

 

मतदाताओं में नहीं दिखा मतदान के लिए जोश
भीमताल विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं में इस बार मतदान के लिए जोश देखने को नहीं मिला। सुबह 7 बजे से मतदान केंद्रों पर लाइन लगी रही। मतदान के लिए युवा, महिलाएं, दिव्यांग और बुर्जुग भी मतदान के लिए पहुंचे थे। ओखलकांडा के कैड़ा गांव में विधायक राम सिंह कैड़ा ने अपनी पत्नी ब्लाक प्रमुख कमलेश कैड़ा के साथ मतदान किया।

जनता ने एक बार फिर से नरेंद्र सिंह को प्रधानमंत्री बनाने का काम किया है। भीमताल के युवा मतदाता शुभम नैनवाल, आशु महतोलिया, आशु पाठक ने बताया कि उन्होंने रोजगार के नाम पर अपना मतदान किया। जो भी सरकार आए वह भीमताल में बंद उद्योगों को खोलकर नए उद्योग लगाकर युवाओं को रोजगार देने का काम करें।

तल्लीताल ठंडी सड़क के भूपेंद्र कनौजिया अपने बुर्जुग पिता रिटायर्ड सूबेदार मेजर हरीश कुमार कनौजिया को व्हील चेयर के माध्यम से मतदान करने के लिए पहुंचे। हालांकि दोपहर बाहर मतदान केंद्रों में मतदाताओं की संख्या कम रही।

वहीं मतदाताओं की खामोशी भी भाजपा और कांग्रेस की बैचेनी बढ़ा रही है। भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने भीमताल पहुंचकर कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर मतदान को लेकर जानकारी हासिल की

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top