UTTARAKHAND NEWS

Big breaking :-जहां ज्यादा भीड़, वहां रोकने पर सहयोग करें यात्री…पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

जहां ज्यादा भीड़, वहां रोकने पर सहयोग करें यात्री…पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

पुलिस की ओर से यात्रियों के लिए दैनिक बुलेटिन जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि सभी चारधाम यात्रा मार्ग खुले हुए हैं। सभी जगहों पर यातायात व्यवस्था भी दुरुस्त है।चारों धामों में इन दिनों रिकॉर्ड यात्री पहुंच रहे हैं। इसके लिए पुलिस ने भी यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी की है। पुलिस की ओर से कहा गया है कि भीड़ अधिक होने पर जहां रोका जाए वहां पर पुलिस का सहयोग करें। ताकि, वहां पर स्थिति को संभाला जा सके। इसके अलावा पुलिस धामों में मौसम को ध्यान में रखते हुए भी व्यवस्थाएं कर रही है। पुलिस अधिकारियों की ओर से रूट आदि की जानकारी भी एडवाइजरी में दी गई है।पुलिस की ओर से यात्रियों के लिए दैनिक बुलेटिन जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि सभी चारधाम यात्रा मार्ग खुले हुए हैं। सभी जगहों पर यातायात व्यवस्था भी दुरुस्त है। यमुनोत्री जाने वाले मार्ग पर कोई बाईपास रूट नहीं है। ऐसे में यातायात का अधिक दबाव होने पर मुख्य-मुख्य पड़ावों पर रुकने की व्यवस्था की जा रही है। यहां से वाहनों को रोक-रोककर चलाया जा रहा है। मुख्य पड़ावों में डामटा, बड़कोट, स्यानचट्टी, दोबाटा, पालीगाड़ और ब्रह्मखाल आदि शामिल हैं। श्री गंगोत्री धाम यात्रा मार्ग पर वापसी के समय लेखला पुल से श्री केदारनाथ जाने वाले यातायात को लंबगांव और ऋषिकेश जाने वाले यातायात को बड़ेथी की ओर डायवर्ट किया जा रहा है।

 

धामों में मौसम की स्थिति
धाम का नाम- मौसम की स्थिति-
यमुनोत्री धाम बारिश होने की संभावना है, बादल छाए हुए हैं।
गंगोत्री धाम बारिश होने की संभावना है, बादल छाए हुए हैं।
केदारनाथ धाम हल्की बारिश हो रही है, बादल छाए हुए हैं।
बद्रीनाथ धाम बारिश होने की संभावना है, बादल छाए हुए हैं।

यात्रियों के ठहरने की क्षमता व धामों में ठहरे व्यक्तियों की संख्या
यमुनोत्री धाम- 500
गंगोत्री धाम- 4000-5000
केदारनाथ धाम- 20000
बदरीनाथ धाम- 7500
ये भी है एडवाइजरी में
– गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं से अपील है कि वहां पर अत्यधिक भीड़ होने के फलस्वरूप अपने सुविधानुसार स्थानों पर विश्राम करें।
– चारधाम यात्रा के लिए यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु अपना व अपने साथियों का पंजीकरण अवश्य करवाएं।
– पंजीकृत तिथियों पर ही संबंधित धामों के लिए यात्रा करें।
– यात्रा शुरू करने से पहले अपना स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य कराएं
– रात 10.00 बजे से सुबह 04.00 बजे तक यात्री वाहनों का आवागमन पूर्णतः प्रतिबंधित है।
– नशीले पदार्थों का सेवन न करें।
– हेली टिकट धोखाधड़ी से बचे व अधिकृत साइट https://heliyatra.irctc.co.in से ही हेली टिकट बुक कराएं।
– पुलिस सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर 112 पर कॉल करें।
– धामों में पहुंचने पर धामों की मर्यादा, पवित्रता एवं स्वच्छता बनाए रखें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top